21.3 C
Haldwani
Thursday, September 19, 2019
raksha-bandhan-2019-mera-uttarakhand
Raksha Bandhan 2019- रक्षाबंधन भारतीय संस्कृति का एक प्रमुख त्यौहार है। श्रावण पूर्णिमा पर मनाया जाने वाला रक्षाबंधन भारत के प्रसिद्ध त्योहारों में से एक है,  जिसे भारत के एक बड़े भू-भाग में मनाया जाता है। वक़्त के साथ इस त्योहार में काफी बदलाव भी आए हैं, लेकिन इसकी मूलभावना आज भी बरकरार है। यह भाई और बहन के प्रेम...
hindu-dharma-8-prahar
हिन्दू धर्म (Hindu Dharma) में समय की बहुत ही वृहत्तर धारणा है। आमतौर पर इस समय में मिनट, सेकंड, घंटे, रात-दिन, माह, वर्ष, दशक और शताब्दी तक की ही प्रचलित धारणा है, परन्तु अगर हम हिन्दू धर्म की बात करे तो हिन्दू धर्म में एक अणु, तृसरेणु, त्रुटि, वेध, लावा, निमेष, क्षण, काष्ठा, लघु, दंड, मुहूर्त, प्रहर या याम, दिवस,...
garuda-purana-unraveling-the-secret-of-death
जहां एक ओर वेदों को हिन्दू धर्म के पवित्र दस्तावेजों के तोर पर देखा जाता है वहीं ग्रंथ और पुराण इसकी रीढ़ की हड़ी कहे जा सकते हैं, जिनके बिना हिन्दू धर्म अधूरा माना जाता है। इन्हें हिन्दू धर्म के ऐसे दर्शन शास्त्रों की संज्ञा दी जाती है जो धर्म, समाज और सभ्यता, सभी का मिलाजुला स्वरूप हैं। मृत्यु जीवन...
mera-uttarakhand-story
बहुत समय पहले की बात है , दंडकपुर का एक बहुत प्रतिभाशाली राजा था , दूर-दूर तक उसकी समृद्धि की चर्चाएं होती थी, उसके महल में हर एक सुख-सुविधा उपलब्ध थी पर फिर भी अंदर से उसका मन अशांत रहता था। उसने कई ज्योतिषियों और पंडितों से इसका कारण जानना चाहा, बहुत से ज्योतिषियों और विद्वानो से मिला, किसी ने...
golu-devta-temple-almora
उत्तराखंड को भगवानो का निवास स्थान बताया गया है यहा तीर्थस्थलो के साथ साथ कई पौराणिक कथाये भी महशूर है। अभी तक आपने भक्तो को मंदिरों में जाकर अपनी मुरादें मांगते देखा होगा, लेकिन उत्तराखंड के अल्मोड़ा और नैनीताल जिले में स्थित गोलू देवता (golu Devta) के मंदिर में केवल चिट्ठी भेजने से ही मुराद पूरी  हो जाती है। साथ ही...
mere gaon ki yaade
अपनी गॉवो की यादो को अपने साथ समेटे हुए .. ऐ मेरे गांव की सड़को , ऐ मेरे गांव में बिताये हुए मेरे बचपन की यादो... मैं जा रहा हु । तुझसे दूर... जाने का तो बिलकुल मन नहीं कर रहा, पर फिर भी दिल में पत्थर रख कर जा रहा हु " शहर की ओर "  ऐ मेरे गांव...
Kafal-pako
गर्मियां शुरू होते ही उत्तराखंड के पहाड़ मौसमी फलों से लदना शुरू हो जाते है। काफल भी उन्हीं मौसमी फलों में से एक फल है। काफल स्वाद में बेसुमार लाल चटक रंग के ये फल रसदार होने के कारण स्थानीय लोगों और पर्यटकों को बहुत लुभाते है। साथ में यह एक ऐसा फल है जिसे प्रकृति की दैन कहा जाता है...
uttarakhand palayan migration
टूट गयी मकान , उजड् गो खेत क़िले एतुक लिजी मांगो छी उत्तराखंड ? लोग परदेशों मैं बस गई, बच की गो अब उत्तराखंड मैं ? खाणी-पिणि परदेशों मा, पिकनिक घुमन लिजी आणि उत्तराखंड मैं पूर्वजो की पाल टुटी, देली मा मकडक जाव जम गई फेसबुक मा स्टेट्स लिखणु लागरी , की आई लव माय उत्तराखंड। पलायन पूर पहाडक हेगो क़िले एतुक लिजी मांगो छी उत्तराखंड ? शहीद आंदोलनकारी हेग्गी , उत्तराखंड...
phool-dei-tyohar-Uttarakhand
हिन्दू नववर्ष के स्वागत का पर्व , उत्तराखंड की लोक संस्कृति से जुडा पर्व हैं फूलदेईं। उत्तराखंड अपनी खूबसूरत वादियों , झीलों , ऊंचे ऊँचे पहाड़ , नदियों व खूबसूरती से भरे हिमालय के दर्शन के लिए जाना जाता है । और यहा पर प्रकृति द्वारा बिना कहे दिए जाने वाले अनगिनत उपहारों के बदले प्रकृति को धन्यवाद देने हेतु अनेक त्यौहार...
जो अच्छा नहीं था वो आज याद जाता हैं इंसान फितरत का यह सबसे उन्दा नमूना है जो बचपन में बिलकुल अच्छा नहीं लगता था आज उसी पल की तलाश करता हैं चाहे किसी का कितना ही बुरा बचपन गुजरा हो. लेकिन ऐसा कोई नहीं जिसे अपने बचपन की याद न सताती हो अगर आप किसी व्यक्ति से पूछे की...

FOLLOW ME

1,846FansLike
293FollowersFollow
30FollowersFollow

WEATHER

Haldwani
moderate rain
21.3 ° C
21.3 °
21.3 °
86 %
1.8kmh
24 %
Thu
21 °
Fri
25 °
Sat
25 °
Sun
24 °
Mon
25 °

POPULAR ARTICLES